Wednesday, 25 July 2012

In aankhon ki masti ke with English Translation

Movie: Umrao Jaan
Singer: Asha Bhonsale
Lyrics By: Sharyaar
Music: Khayyam


In aankhon ki masti ke with English Translation

इन आँखों की मस्ती के
In aankhon kii mastii ke
By the passion of these eyes

इन आँखों की मस्ती के मस्ताने हज़ारों हैं
In aankhon kii mastii ke mastaane hazaaron hain
There are thousands of lovers intoxicated by the passion of these eyes

मस्ताने हज़ारों हैं
Mastaane hazaaron hain
There are thousands passionate lovers

इन आँखों से वाबस्ता अफ़साने हज़ारों हैं
In aankhon se vaa basta afsaane hazaaron hain
Thousands of love-stories have been spun by these eyes

अफ़साने हज़ारों हैं
Afsaane hazaaron hain
There are thousands of love-stories

इन आँखों की मस्ती के
In aankhon kii mastii ke
By the passion of these eyes

एक तुम ही नहीं तन्हा
Ek tum hii nahiin tanhaa
You are not the only one 
 
एक तुम ही नहीं तन्हा उलफत में मेरी रुसवा
Ek tum hii nahiin tanha ulfat mein merii rusvaa
You are not the only one disgraced by your desire for me

उलफत में मेरी रुसवा
Ulfat mein merii rusvaa
Disgraced in your desire for me

इस शहर में तुम जैसे दीवाने हज़ारों हैं
Is shahar mein tum jaise, diiwaane hazaaron hain
In this city, there are thousands of crazy-men just like you

दीवाने हज़ारों हैं
Diiwaane hazaaron hain
Thousands of crazy-men

इन आँखों की मस्ती के मस्ताने हज़ारों हैं
In aankhon kii mastii ke mastaane hazaaron hain
There are thousands of lovers intoxicated by the passion of these eyes

इन आँखों की मस्ती के
In aankhon kii mastii ke
By the passion of these eyes

एक सिर्फ़ हमी मय को, एक सिर्फ़ हमी
Ek sirf hamii mai ko ek sirf hamii
There is only me, only me

एक सिर्फ़ हमी मय को आँखों से पिलाते हैं
Ek sirf hamii mai ko aankhon se pilaate hain
There is only me, only I can serve wine with my eyes

कहने को तो दुनिया में मैखाने हज़ारों हैं
Kahane ko to duniya mein mai-khaane hazaaron hain
To hear people tell it, there are thousands of taverns in this world

मैखाने हज़ारों हैं
Mai-khaane hazaaron hain
There are thousands of taverns

इन आँखों की मस्ती के मस्ताने हज़ारों हैं
In aankhon kii mastii ke mastaane hazaaron hain
There are thousands of lovers intoxicated by the passion of these eyes

इन आँखों की मस्ती के
In aankhon kii mastii ke
By the passion of these eyes

इस शम्म-ए-फ़रोज़ा को आँधी से डराते हो
Is sham-e-faroza ko aandhii se Daraate ho
You make this brilliant candle fear the storm

आँधी से डराते हो
Aandhii se Daraate ho
You make it fear the storm

इस शम्म-ए-फ़रोज़ा के परवाने हज़ारों हैं
Is sham-e-faroza ke, parvaane hazaaron hain
There are a thousand moths drawn to this brilliant candle

परवाने हज़ारों हैं
Parvaane hazaaron hain
There are a thousand moths

इन आँखों की मस्ती के मस्ताने हज़ारों हैं
In aankhon kii mastii ke mastaane hazaaron hain
There are thousands of lovers intoxicated by the passion of these eyes


इन आँखों से वाबस्ता अफ़साने हज़ारों हैं
In aankhon se vaa basta afsaane hazaaron hain
There are thousands of love-stories spun from these eyes

अफ़साने हज़ारों हैं
Afsaane hazaaron hain
There are thousands of love-stories

इन आँखों की मस्ती के
In aankhon kii mastii ke
By the passion of these eyes

Faiz Ahmed Faiz with English Translation

Faiz Ahmed Faiz with English Translation

Tum mere paas raho with English Translation

तुम मेरे पास रहो
मेरे क़ातिल, मेरे दिलदार, मेरे पास रहो
जिस घड़ी रात चले,
आसमानों का लहू पी के सियाह रात चले
मर्हमे-मुश्क लिये नश्तरे-अल्मास लिये
बैन करती हुई, हंसती हुई, गाती निकले
दर्द की कासनी पाजेब बजाती निकले
जिस घड़ी सीनों मे डूबे हुए दिल
आस्तीनों मे निहां हाथों की राह तकने लगे
आस लिये
और बच्चों के बिलखने कि तरह क़ुलकुले-
मे
बहरे-नासूदगी मचले तो मनाये न मने
जब कोई बात बनाए न बने
जब न कोई बात चले
जिस घड़ी रात चले
जिस घड़ी मातमी सुनसान, सियाह रात चले
पास रहो
मेरे क़ातिल, मेरे दिलदार, मेरे पास रहो

Tum mere paas raho
Mere qaatil, mere dildaar, mere paas raho
Jis ghadii raat chale
Aasamaanon kaa lahuu pii kar siyah raat chale
Marham-e-mushk liye nashtar-e-almaas chale
Bain karatii huyi, hansatii huyi, gaatii nikale
Dard kii kaasanii paazeb bajaatii nikale
Jis ghadii siinon mein Duubate huye dil
Aastiinon mein nihaan haathon kii rah takane nikale aas liye
Aur bachchon ke bilakhane kii tarah qul-qul-e-may
Bahr-e-naasudagii machale to manaaye na mane

Jab koyi baat banaaye na bane
Jab na koyi baat chale
Jis ghadii raat chale
Jis ghadii maatamii, sun-saan, siyah raat chale
Paas raho
Mere qaatil, mere dildaar, mere paas raho
Jis ghadree maatami, sunsaan, siyaah raat chaley
Tum mere paas rahoo
Mere qatil, mere dildaar mere paas raho
Paas raho


Translation

You......be near me
my destroyer, my lover, be near me
when evening comes closer be near me
remain near me when evening
drunk on the blood of skies
becomes dark night, in the other
a sword sheathed in the diamond of stars
Be near me when night laments or sings
or when it begins to dance
its Estell-blue anklets ringing with grief
Be here when longings, long submerged
in the heart’s waters, resurface
and everyone begins to look
Where is the assassin?
In whose sleeve is hidden the redeeming knife?
And when wine, as it is poured, is the sobbing
of children whom nothing will console
when nothing holds
when nothing is
at that dark hour when lonely-silent-dark night mourns
be near me, my destroyer, my lover me
be near me

Tuesday, 24 July 2012

Main pal do pal ka shaayar with English Translation

Movie: Kabhie Kabhie
Singer: Mukesh
Lyrics By: Sahir Ludhiyanvi


Main pal do pal ka shaayar with English Translation

मैं पल दो पल का शायर हूँ
Main pal do pal ka shaayar hun
I am a poet only for a moment or two

पल दो पल मेरी कहानी हैं
Pal do pal merii kahaanii hai
My story will be over in a few moments.

पल दो पल मेरी हस्ती है
Pal do pal merii hanstii hai
My existence is only for a moment or two

पल दो पल मेरी जवानी हैं
Pal do pal merii jawaanii hai
My youth will be over in a few moments

मैं पल दो पल का शायर हूँ
Main pal do pal ka shaayar hun
I am a poet only for a second or two

मुझ से पहले कितने शायर आये
Mujhse pahale kitne shaayar aaye
Many poets came before me

और आकर चले गए
Aur aakar chale gaye
And after coming, departed

कुछ आहे भर कर लौट गए
Kuchh aahen bharkar laut gaye
Some went filled with sighs

कुछ नग्में गा कर चले गए
Kuchh nagme gaakar chale gaye
And some went singing songs

वो भी एक पल का किस्सा थे
Woh bhii ek pal ka qissa tha
They were only the story of a moment in time

मैं भी एक पल का किस्सा हूँ
Main bhii ek pal ka qissa hun
I too am only the story of a moment

कल तुम से जुदा हो जाऊंगा
Kal tumse judaa ho jaa'uunga
Tomorrow I will be separated from you

वो आज तुम्हारा हिस्सा हूँ
Woh aaj tumhaara hissa hun
But for today, I'm a part of you

मैं पल दो पल का शायर हूँ
Main pal do pal ka shaayar hun
I am a poet of a moment or two, no more.

कल और आयेंगे नग्मों की
Kal aur aayenge nagmon kii
Tomorrow new songs will arrive

खिलती कलियाँ चुननेवाले
Khiltii kaliyaan chunane waale
Freshly bloomed blossoms to be plucked

मुझ से बेहतर कहनेवाले
Mujhse behatar kahanewaale
There will be better poet than me

तुम से बेहतर सुननेवाले
Tumse behatar sunnewaale
And better listeners than you

कल कोई मुझको याद करे
Kal koii mujhko yaad kare
Tomorrow, someone might remember me

क्यों कोई मुझको याद करे
Kyon koii mujhko yaad kare
But why should anyone remember me?

मसरूफ ज़माना मेरे लिए
Masaruuf zamaana mere liye
For my sake, why should this busy world

क्यों वक्त अपना बरबाद करे
Kyon waqt apna barbaad kare
Waste its time?

मैं पल दो पल का शायर हूँ
Main pal do pal ka shaayar hun
I am a poet only for a moment or two

पहले पहल तो ख़्वाबों का दम भरने लगती हैं

पहले पहल तो ख़्वाबों का दम भरने लगती हैं
फिर आँखें पलकों में छुप कर रोने लगती  हैं

जाने तब क्यों सूरज की ख्वाहिश करते हैं लोग

जब बारिश में सब दीवारें
गिरने लगती  हैं

तस्वीरों का रोग भी आखिर कैसा होता है

तन्हाई में बात करो तो बोलने लगती हैं

साहिल से टकराने वाली वहशी मौजें भी

ज़िंदा रहने की ख्वाहिश में मरने लगती हैं

तुम क्या जानो लफ़्ज़ों के आजार की शिद्दत को

यादें तक सोचों की आग में जलने लगती  हैं
~सलीम कौसर

Pahale pahal to Khvaabon kaa

Pahale pahal to Khvaabon kaa dam bharane lagati hain

Pahale pahal to Khvaabon kaa dam bharane lagatii hain
Phir aankhen palakon mein chhup kar rone lagatii hain

Jaane tab kyon suuraj kii Khvaahish karate hain log
Jab baarish mein sab diivaaren girane lagatii hain

Tasviiron kaa rog bhii aakhir kaisaa hotaa hai
Tanhaayi mein baat karo to bolane lagatii hain

Saahil se takaraane vaalii vahashii maujen bhii
Zindaa rahane kii Khvaahish mein marane lagatii hain

Tum kyaa jaano lafzon ke aazaar kii shiddat ko
Yaaden tak sochon kii aag mein jalane lagatii hain

~Saleem kausar

Meaning:
aazaar=difficulty/trouble, shiddat=strength

Monday, 23 July 2012

Kabhie kabhie mere dil mein with English Translation

Movie : Kabhie Kabhie
Singer : Mukesh
Lyrics By : Sahir Ludhiyanavi


Kabhie kabhie mere dil mein khyaal with English Translation

कभी कभी मेरे दिल में ख्याल आता है
Kabhi kabhi mere dil mein khayaal aata hai
Sometimes the thought crosses my mind

कि जैसे तुझको बनाया गया है मेरे लिए
Ki jaise tujhko banaaya gaya hai mere liye
That you have been made just for me

तू अबसे पहले सितारों में बस रही थी कहीं
Tuu ab se pahale sitaaron mein bas rahii thi kahin
Before this, you were dwelling somewhere in the stars 

तुझे ज़मीन पे बुलाया गया है मेरे लिए
Tujhe zamiin pe bulaaya gaya hai mere liye
You are summoned to earth just for me

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
Kabhi kabhi mere dil mein khayaal aata hai
Sometimes the thought crosses my mind

कि ये बदन ये निगाहें मेरी अमानत हैं
Ki yeh badan ye nigaahen meri amaanat hain
That this body and these eyes are kept in trust for me

ये गेसुओं कि घनी छाओं है मेरी खातिर
Ye gesuon ki ghanii chhanv hain meri khaatir
That the dark shadows of your hair are for my sake alone

ये होंठ और ये बाहें मेरी अमानत हैं
Ye honth aur ye baahen meri amaanat hain
That these lips and these arms are charged to my care

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
Kabhi kabhi mere dil mein khayaal aata hai
Sometimes the thought crosses my mind

कि जैसे बजती है शहनाइयां सी राहों में
Ki jaise bajtii hai shahanaaiyan sii raahon mein
Just as the shehnai sounds on the roads

सुहाग रात है घूंघट उठा रहा हूँ मैं
Suhaag raat hai ghoonghat uthaa rahaa hun main
That it is my wedding night, and I am lifting your veil

सिमट रही है तू शर्मा के अपनी बाहों में
Simat rahii hai tuu sharmaake merii baahon mein
You are shrinking for shame, blushing in my arms

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
Kabhi kabhi mere dil mein khayaal aata hai
Sometimes the thought crosses my mind

कि जैसे तू मुझे चाहेगी उम्र भर यूँ ही
Ki jaise tuu mujhe chaahegii umra bhar yun hii
That you will love me like this our whole lives through

उठेगी मेरी तरफ प्यार कि नज़र यूँ ही
Uthegii merii taraf pyaar kii nazar yun hii
That you will always lift a loving gaze to me like this

मैं जानता हूँ कि तू गैर है मगर यूँ ही
Main jaanta hun ki tuu gair hai magar yun hii
I know you are a stranger, but even so

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
Kabhi kabhi mere dil mein khayaal aata hai
Sometimes the thought crosses my mind

सुन ऐ गाफिल! सदा मेरी : इकबाल

छुपा कर आस्ती में बिजलिया रख दी है गर्दू ने
अनादिल बाग़ के गाफिल न बैठे आशियानों में |

सुन ऐ गाफिल! सदा मेरी, यह ऐसी चीख है जिसको
वजीफा जानकार पढ़ते है तायर बोस्तानों में |

वतन की फिक्र न कर नादाँ! मुसीबत आने वाली है

तेरी बरबादियों के मशवरे है आसमानों में |

ज़रा देख उसको जो कुछ हो रहा है, होनेवाला है

धरा क्या है भला अहदे-कुहन की दस्तानो में |

न समझोगे तो मिट जाओगे ऐ हिन्दोस्तां वालो!

तुम्हारी दास्तां तक भी न होगी दस्तानों में |

~ इकबाल
मायने : गर्दू= आकाश, अनादिल=बुलबुल, सदा=आवाज, वजीफा=जाप, तायर=पक्षी, बोस्तानों=बाग़, अहदे-कुहन= पुराने ज़माने

जुबा हिलाओं तो हो जाए फैसला दिल का

जुबा हिलाओं तो हो जाए फैसला दिल का
अब आ चुका है लबो पर मुआमला दिल का

किसी से क्या हो तपिश में मुलाबिला दिल का

जिगर को आँख दिखाता है आबला दिल का

कुसूर तेरी निगाहों का है, क्या खता उसकी

लगावटो ने बढाया है हौसला दिल का  

शबाब आते ही ऐ काश मौत भी आती

कि जिनके आगे भरे पानी, आबला दिल का

कुछ और भी तुझे ऐ 'दाग' बात आती है

वही बुतों की शिकायत, वही गिला दिल का

~ मिर्ज़ा दाग देहलवी

मायने: आबला=छाला, ज़ख्म; गिला=शिकायत

Sunday, 22 July 2012

दरिया की हवा तेज़ थी, कश्ती थी पुरानी, Amjad Islam Amjad

दरिया की हवा तेज़ थी, कश्ती थी पुरानी
रोका तो बहुत दिल ने मगर एक न मानी

मैं भीगती आँखों से उसे कैसे हटाऊ

मुश्किल है बहुत अब्र में दीवार उठानी

निकला था तुझे ढूंढ़ने इक हिज्र का तारा

फिर उसके ताआकुब में गयी सारी जवानी

कहने को नई बात हो तो सुनाए

सौ बार ज़माने ने सुनी है ये कहानी

किस तरह मुझे होता गुमा तर्के-वफ़ा का

आवाज़ में ठहराव था, लहजे में रवानी

अब मैं उसे कातिल कहूँ 'अमज़द' कि मसीहा

क्या ज़ख्मे-हुनर छोड़ गया अपनी निशानी

~ अमज़द इस्लाम अमज़द

मायने: अब्र=घटा, हिज्र=जुदाई, ताआकुब=पीछा, गुमा=अंदाज़ 

ज़िन्दगी को ज़र-ब-कफ़, ज़रफाम करना सीखते

ज़िन्दगी को ज़र-ब-कफ़, ज़रफाम करना सीखते
कौन था वो किससे हम आराम करना सीखते

वक़्त ने मोहलत न दी वरना हमें मुश्किल न था

सिरफिरी शामों को नज़रे-जाम करना सीखते

सीख लेते काश हम भी कोई कारे-सूद-मंद

शेर-गोई छोड़ देते, काम करना सीखते

खुद-ब-खुद तय हो गए शामो-सहर अच्छा था मैं

सुबह करना सीख लेते, शाम करना सीखते

क़द्र है जब शोरो-गोगा की तो हजरत आप भी

गीत क्यों गाते रहे, कोहराम करना सीखते

~निश्तर खानकाही

मायने: ज़र-ब-कफ़=मुट्ठियों में सोना, ज़रफाम=सोने जैसा रंग, नज़रे-जाम=शराब को समर्पित,  कारे-सूद-मंद=लाभदायक, शेर-गोई=शेर कहना, शोरो-गोगा=शोर शराबा 

परिचय: बिजनौर के ग्राम ज़हानाबाद में फरवरी 1930 को जन्मे अनवार हुसैन 'निश्तर खानकाही' की पहचान गज़लकार, व्यंगकार, कहानीकार, नाटककार और स्वतन्त्र लेखक के तौर पर है. मुंबई में काफी समय गुजारने के बाद वे दिल्ली में तरक्की पसंद तहरीक की पत्रिका 'शाहराह' और उर्दू 'बीसवी सदी' के सम्पादक भी रहे. 'मेरे लहू की आग', 'सारे में शाम', 'मोम की बैशाखियाँ', 'मंज़र', 'पसे-मंजर'  ग़ज़ल संग्रह है. कुछ सियासी किताबे भी प्रकाशित हुयी है.

जो वो नज़र-बा-सरे लुत्फ़ आम हो जाये

जो वो नज़र-बा-सरे लुत्फ़ आम हो जाये
अजब नहीं कि हमारा भी काम हो जाये

रहीं-ए-यास रहे, पहले आरजू कब तक

कभी तो आपका दरबार आम हो जाये

सुना है बार सरे बख्शीश है आज पीर मुगां
हमें भी काश अता कोई जाम हो जाए

तेरे करम पे है मोकुफ कामरानी-ए-शौक

ये ना तमामे इलाही तमाम हो जाये

सितम के बाद करम है जफा के बाद अता

हमें है बस जो यही इल्तजाम हो जाये

अता हो सोज वो या रब जुनूने हसरत को

कि जिससे पुख्ता यह सौदा-ए-खाम हो जाये

~हसरत मोहानी
परिचय: 1878  में उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के मोहान में जन्मे हसरत मोहानी जाने-माने शायर है.

Saturday, 21 July 2012

कोई दोस्त है न रकीब है

कोई दोस्त है न रकीब है
तेरा शहर कितना अजीब है

वह जो इश्क था वह जुनून था
यह जो हिज्र है ये नसीब है

यहाँ किसका चेहरा पढ़ा करूं
यहाँ कौन इतना करीब है

मैं किसे कहूं मेरे साथ चल
यहाँ सब के सर पे सलीब है

तुझे देख कर मैं हूँ सोचता
तू हबीब है या रकीब है
~ राना  सहरी

होंठो पे मुहब्बत के फ़साने नहीं आते

होंठो पे मुहब्बत के फ़साने नहीं आते
साहिल पे समंदर के खजाने नहीं आते

पलकें भी चमक उठती है सोते में हमारी
आँखों को अभी ख्वाब छुपाने नहीं आते

दिल उजड़ी हुयी एक सराय की तरह है
अब लोग यहाँ रात बिताने नहीं आते

क्या सोच कर आये हो मुहब्बत की गली में
जब नाज़ हसीनो के उठाने नहीं आते

अहबाब भी गैरो की अदा सीख गए है
आते है मगर दिल को दुखाने नहीं आते
~ बशीर बद्र
मायने : फसाना=कथा, साहिल=किनारा, नाज़=नखरे, अहबाब=मित्रगण

Friday, 20 July 2012

Rahi manva dukh ki chinta with English Translation

Movie: Dosti
Singer: Mohammad Rafi


Rahi manva dukh ki chinta with English Translation

राही मनवा दुःख की चिंता क्यों सताती है
Raahi manva dukh ki chinta kyon sataati hai
O traveller, why do you worry about sorrow

दुःख तो अपना साथी है
Dukh to apna saathi hai
Sorrow is our friend

सुख है एक छाँव ढलती आती है जाती है
Sukh hai ek chhaanv dhalati aati hai jaati hai
Happiness is but a transient shadow, it comes and goes

दुःख तो अपना साथी है
Dukh to apna saathi hai
Only sorrow is our companion

दूर है मंजिल दूर सही
Duur hai manzil duur sahi
If destination is afar, so be it

प्यार हमारा क्या कम है
Pyaar hamaara kyaa kam hai
Is our love any less powerful

पग में कांटे लाख सही
Pag mein kaante laakh sahi
Even if there are thousands of thorns in path

पर ये सहारा क्या कम है
Par ye sahaara kyaa kam hai
Is our support any less?

हमराह तेरे कोई अपना तो है
Hamraah tere koi apna to hai
O traveller, you do have your someone

हो ओ, सुख है एक छाँव ढलती
Ho o ,Sukh hai ek chhaanv dhalti
Happiness is but a transient shadow

दुःख हो कोई तब जलते हैं
Dukh ho koi tab jalte hain
During the sorrow only, light up

पथ के दीप निगाहों में
Path ke deep nigaahon mein
Lamps of path in your eyes

इतनी बड़ी इस दुनिया की
Itani badi is duniya ki
In such a big world

लम्बी अकेली राहों में
Lambi akeli raahon mein
On long lonely paths

हमराह तेरे कोई अपना तो है
Hamraah tere koi apna to hai
O traveller, you do have your someone

हो ओ, सुख है एक छाँव ढलती
Ho o , sukh hai ek chhaanv dhalti
Happiness is but a transient shadow

Wednesday, 4 July 2012

Ek din aap yun hamko mil with English Translation

Movie: Yes Boss
Singers: Udit Narayan, Alka Yagnik


Ek din aap yun hamko mil with English Translation

एक दिन आप यूँ हमको मिल जायेंगे     
Ek din aap yun hamko mil jayenge
That one day we would come together like this

फूल ही फूल राहों में खिल जायेंगे
Phool hii phool raahon mein khil jayenge
That lots of flowers would bloom on our paths

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha
I had never imagined it

एक दिन आप यूँ हमको मिल जायेंगे
Ek din aap yun hamko mil jayenge
That one day we would come together like this

फूल ही फूल राहों में खिल जायेंगे
Phool hii phool raahon mein khil jayenge
That lots of flowers would bloom on our paths

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha
I had never imagined it

एक दिन ज़िन्दगी इतनी होगी हसीं
Ek din zindagii itnii hogii hasiin
That life would one day be so beautiful

झूमेगा आसमान गायेगी यह ज़मीन
Jhoomega asmaan gayegii yeh zameen
That the sky would sway and this earth would sing

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

एक दिन ज़िन्दगी इतनी होगी हसीं
Ek din zindagii itnii hogii hasiin
That life would one day be so beautiful

झूमेगा आसमान गायेगी यह ज़मीन
Jhoomega asmaan gayegii yeh zameen
That the sky would sway and this earth would sing

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

दिल की डाली पर कलियाँ सी खिलने लगीं
Dil ki Daalii par kaliyaan see khilne lagiin
On the branches of my heart, flower buds began to bloom

जब निगाहें निगाहों से मिलने लगीं
Jab nigaahen nigaahon se milne lagiin
When our gazes caught 

दिल की डाली पर कलियाँ सी खिलने लगीं
Dil ki Daalii par kaliyaan see khilne lagiin
On the branches of my heart, flower buds began to bloom

जब निगाहें निगाहों से मिलने लगीं
Jab nigaahen nigaahon se milne lagiin
When our gazes caught 

एक दिन इस तरह होश खो जायेंगे 
Ek din is tarah hosh kho jayenge
That one day I would lose my senses like this

पास आये तो मदहोश हो जायेंगे
Paas aaye to madhosh ho jayenge
That you would come near and I would be enraptured in this manner

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

एक दिन आप यूँ हमको मिल जायेंगे
Ek din aap yun hamko mil jayenge    
That one day we would come together like this

फूल ही फूल राहों में खिल जायेंगे
Phool hii phool raahon mein khil jayenge
That lots of flowers would bloom on our paths

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

जगमगाती हुयी जागती रात है
Jagmagaatii huyee jaagtii raat hai
The glittering night keeps me awake

रात है या सितारों की बरसात है
Raat hai yaa sitaaron kii barsaat hai
Is this night, or is it the season of showering stars?

जगमगाती हुयी जागती रात है
Jagmagaatii huyii jaagtii raat hai
The glittering night keeps me awake

रात है या सितारों की बरसात है
Raat hai yaa sitaaron kii barsaat hai
Is this night, or is it the season of showering stars?

एक दिन दिल की राहों में अपने लिए
Ek din dil kii raahon mein apne liye
That one day on the paths of the heart

जल उठेंगे मुहब्बत के इतने दिए
Jal uthenge muhabbat ke itne diye
Fire would blaze from the lights of my love

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

एक दिन ज़िन्दगी इतनी होगी हसीं
Ek din zindagii itnii hogii hasiin
That life would one day be so beautiful

झूमेगा आसमान गायेगी यह ज़मीन
Jhoomega asmaan gayegii yeh zameen
That the sky would sway and this earth would sing

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it

एक दिन आप यूँ हमको मिल जायेंगे
Ek din aap yun hamko mil jayenge    
That one day we would come together like this

फूल ही फूल राहों में खिल जायेंगे 
Phool hii phool raahon mein khil jayenge    
That lots of flowers would bloom on our paths

मैं ने सोचा न था
Main ne socha na tha    
I had never imagined it